क्या आप जानते हैं दुनिया की सबसे महँगी कॉफ़ी कैसे बनती हैं?

luwak coffee history

हेलो फ्रेंड्स, आज मैं आपको दुनिया की सबसे महँगी कॉफ़ी के बारे में बताने जा रही हूँ | जो पढ़ने के बाद आप निश्चित ही आश्चर्य करेंगे | आप कॉफ़ी तो अक्सर पीते होंगे और ज्यादातर लोग कॉफ़ी के दीवाने होते हैं | कॉफ़ी में काफी तरह की वेरायटीज होती हैं |

लेकिन दुनिया की सबसे महँगी कॉफ़ी “लुवाक कॉफ़ी” के बारे में जानेंगे तो आश्चर्य करेंगे | अमरीका में जहा एक कप साधारण कॉफ़ी बाजार में 2$ से 5$ तक मिल जाती हैं वही लुवाक कॉफ़ी 35$ से 100$ तक में मिलती हैं |

लुवाक कॉफ़ी –

यह कॉफ़ी इंडोनेशिया में एक खास तरीके से बनायीं जाती हैं | इसमें बिल्ली की विशेष प्रजाति जिसे वहां की आम भाषा में लुवाक कहा जाता हैं, को कॉफ़ी के फल खिलाए जाते हैं |

इसके बाद कॉफ़ी के फल का मुलायम वाला हिस्सा पच जाता हैं लेकिन कॉफ़ी के बीज पच नहीं पाते हैं | ये बीज मल के रूप में निकलते हैं जिसे सहेज कर रखा जाता हैं |

luwak coffee process

इसके बाद इन बीजो को धो कर सुखाया जाता हैं इनकी ऊपर की परत को सावधानी से हटाया जाता हैं | ऊपरी परत हटाने के बाद इन बीजो की रोस्ट / सेका जाता हैं जिसके बाद यह कॉफ़ी बनाने के लिए तैयार हो जाते हैं | इन्ही बीजो को पीसकर कॉफ़ी बनायीं जाती हैं जो पूरी दुनिया में लुवाक कॉफ़ी के नाम से प्रसिद्द हैं |

luwak coffee making

लुवाक कॉफ़ी का सबसे महंगे होने की वजह –

लुवाक कॉफ़ी का सबसे महंगे होने की वजह इसका कम मात्रा में उपलब्ध होना हैं | यह पुरे विश्व में सिर्फ 250 से 500 किलो ही बनती हैं | साथ ही यह जिस सिवेट बिल्ली से बनायीं जाती हैं वो सिर्फ इंडोनेशिया के जंगलो में ही पायी जाती हैं |

luwak coffee history

कैसे बनी सबसे पहले लुवाक कॉफी

19वी सदी के पूर्वार्ध में डच लोगो ने इंडोनेशिया में कॉफी के बागान लगाए थे | यहाँ पैदा होने वाली कॉफी अपने स्वाद के कारण काफी प्रसिद्ध हो गई। इसलिए 1850 के आस पास डच लोगों ने बागानों में काम करने वाले कर्मचारियों और स्थानीय निवासियों पर, अपने प्रयोग के लिए, निचे गिरे हुए फलों के उठाने पर भी पाबंदी लगा दी | लेकिन तब तक स्थानीय निवासियों पर कॉफी का स्वाद चढ़ चुका था |

लेकिन सवाल था की उन्हें हासिल कैसे करे ? उन्हें यह पता था की सिवेट नमक बिल्ली की प्रजाति, जो कॉफी के फल खाते है उनके बीज वो सुबह मल के साथ बाहर निकाल देते है | इसलिए उन लोगों ने उन बीजों को इकठ्ठा करके, धो कर, काम में लेना शुरू कर दिया | इस कॉफ़ी के बीजो को काम में लेने पर उन्हें पता चला की इनका स्वाद तो पहले की अपेक्षा काफी बढ़ चूका है |

धीरे धीरे इस प्रक्रिया डच लोगो तक पहुंची जब उन्होंने इसे पिया तो वो भी इसके कायल हो गए और फिर इसका उत्पादन इसी तरह से होने लगा |

luwak coffee history

लुवाक कॉफी की कीमत –

लुवाक कॉफ़ी में कैफीन की मात्रा साधारण कॉफ़ी से काफी कम होती हैं | इस कॉफ़ी की मांग खासतर न्यूयोर्क, शिकागो, मिलानो, जकार्ता, सेन फ्रांसिस्को, सिंगापुर और विएना जैसे शहरो में काफी ज्यादा होती हैं |

इसे विश्व की सबसे महंगी कॉफी होने का खिताब प्राप्त है | जिसकी कीमत इसके स्वाद के अनुसार 2 लाख रुपए प्रति किलो तक है। इसके स्वाद और महक की पूरी दुनिया दीवानी है। भारत में आपको यह कॉफी केवल कुछ चुनिंदा मल्टी ब्रांड रिटेल स्टोर पर मिल सकती है।

 

all about luwak coffee

एनिमल एक्टिविस्ट पुर जोर विरोध कर रहे है –

शुरू में तो सिविट जानवरो को बड़े हवादार पिंजरों में रखा जाता था जहाँ वो आराम से घूम फिर सकते थे। लेकिन जैसे जैसे इस कॉफी की डिमांड बढ़ने लगी तो लोगो ने उनको छोटे छोटे पिंजरों में रखना शुरू कर दिया| जैसे की हमारे यहाँ पोल्ट्री फ़ार्म में मुर्गियों को रखा जाता है , ताकि कम जगह में ज्यादा उत्पादन ले सके | इससे इन जानवरो की हालत बहुत दयनीय हो गई जिसका की एनिमल एक्टिविस्ट पुर जोर विरोध कर रहे है उनकी मांग है की इन्हे खुले बाडो में रखा जाए ।

Summary
क्या आप जानते हैं दुनिया की सबसे महँगी कॉफ़ी कैसे बनती हैं?
Article Name
क्या आप जानते हैं दुनिया की सबसे महँगी कॉफ़ी कैसे बनती हैं?
Description
आप कॉफ़ी तो अक्सर पीते होंगे और ज्यादातर लोग कॉफ़ी के दीवाने होते हैं, कॉफ़ी में काफी तरह की वेरायटीज होती हैं, लेकिन दुनिया की सबसे महँगी कॉफ़ी "लुवाक कॉफ़ी" के बारे में जानेंगे तो आश्चर्य करेंगे. अमरीका में जहा एक कप साधारण कॉफ़ी बाजार में 2$ से 5$ तक मिल जाती हैं वही लुवाक कॉफ़ी 35$ से 100$ तक में मिलती हैं.
Author
Share this -
error: Content is protected !!