अगर आपको भी दिनभर बहुत आलस और नींद आती हैं तो जाने वजह !

summer-health-tips

गर्मियों में अक्सर हमारे शरीर में थकान महसूस होना, दिनभर आलस और नींद आना जैसे लक्षण उत्पन्न हो जाते हैं, इसका नकारात्मक प्रभाव हमारी दिनचर्या पर पड़ता हैं | आलस की वजह से किसी भी काम में मन नहीं लग पाता और पूरी ऊर्जा के साथ कोई भी काम करना मुश्किल हो जाता हैं |

चाहे आप एयर कंडीशनर ऑफिस में बैठे हो या या तपती धुप में काम कर रहे हो, गर्मी के समय में आलस आना स्वाभाविक होता हैं | वैसे तो थकान, और दिनभर सुस्ती आने के काफी सारी वजह होती हैं, लेकिन गर्मी के समय में ज्यादातर वजह मौसम के अनुकूल हमारे शरीर का नहीं ढल पाना होता हैं |

तो आइये जानते हैं ऐसा क्यों होता हैं –

निर्जलीकरण (Dehydration) –

गर्मी के मौसम में निर्जलीकरण बहुत आम समस्या हैं, जिसमे हम शरीर को पर्याप्त पानी नहीं देते हैं, जिससे गला सुखना, कमजोरी, नींद आना जैसे समस्याए हो जाती हैं | और ज्यादा होने पर उलटी दस्त शुरू हो जाते हैं | इंसान का शरीर 65% पानी से बना होता हैं | प्रचंड गर्मी में हमारा शरीर खुद को ठंडा रखने अथवा अनुकूल बनाने के लिए पानी और नमक का स्त्राव करता है, जिससे इसकी कमी हो जाती हैं, और निर्जलीकरण की समस्या हो जाती हैं|

इससे बचने के लिए हमें पर्याप्त मात्रा में (2.5 – 3 लीटर) पानी प्रतिदिन पीना चाहिए और हो सके तो निम्बू पानी जैसे पेय जिसमे नमक हो, का भी सेवन करना चाहिए | जिससे हमारा शरीर को गर्मी में जिसकी सबसे ज्यादा जिन पोषक तत्वों की आवश्यकता हैं, वो मिलेगा और दिन भर चुस्त और एक्टिव रह सकते हैं|

सही नींद लेना –

क्या आप सही समय पर सोते हैं? क्या आप पर्याप्त मात्रा में सोते हैं जितना आपके दिमाग और शरीर को जरुरत हैं ? दिनभर आलस आना और नींद आने का यह प्रमुख कारण होता हैं | भारतीय आयुर्वेद में सोने का सबसे सही समय रात्रि 9.00 PM से 3.00 AM बजे हैं | इस समय सबसे अच्छी नींद आती हैं, जैसी हमारे शरीर को जरुरत होती हैं | लेकिन आजकल के दिनचर्या की वजह से हम इस समय नहीं सो पाते हैं |

ऑफिस से लेट आना, इतना जल्दी नींद न आना, डिनर लेट करना और देर तक टीवी और मोबाइल फ़ोन में व्यस्त रहने की वजह से हम सही समय पर सो नहीं पाते हैं | जिससे हम सुबह लेट उठते हैं और सोचते हैं की पर्याप्त मात्रा में नींद ले ली हैं, लेकिन यह सोचना गलत हैं | ज्यादा नींद लेना और सही नींद लेना में फर्क हैं, रात में 9.00 PM से 3.00 AM बजे की नींद 9 घंटे के बराबर हैं जबकि 2.00 AM से 10.00 AM बजे की नींद सिर्फ 4 घंटे के बराबर हैं|

feeling-sleepy-in-summer

सही समय पर सोने से दिनभर फुर्ती रहती हैं और काम में मन लगा रहता हैं | जबकि गलत समय पर ज्यादा सोने पर भी थकान, चिड़चिड़ापन, तनाव, डर, गुस्सा इत्यादि होता रहता हैं |

सामान्यता एक स्वस्थ इंसान को कितनी नींद की आवश्यकता है?

  1. 0 से 7 वर्ष – 10 से 12 घंटे की नींद
  2. 7 से 14 वर्ष – 8 से 10 घंटे की नींद
  3. 14 से 21 वर्ष – 6 से 8 घंटे की नींद
  4. 21 से 35 वर्ष – 5 से 6 घंटे की नींद
  5. 35 से 50 वर्ष – 4 से 5 घंटे की नींद
  6. 50 वर्ष से अधिक – 4 घंटे या इससे कम

भोजन की मात्रा –

सर्दियों में हमारे शरीर को तापमान बनाये रखने के लिए अधिक ऊर्जा की जरुरत होती हैं, जिसके लिए दिनभर भूख लगती हैं और हमे ज्यादा खाना खाने की आवश्यकता होती हैं | लेकिन इसके विपरीत गर्मियों में हमे इतनी ज्यादा खाना खाने की जरूरत नहीं होती, सिर्फ हमारे शरीर को सुचारु रूप से चलाने के लिए सीमित भोजन की आवश्यकता होती हैं | लेकिन साथ ही हमे तरल पेय, जैसे पानी, निम्बू शिकंजी, नारियल पानी, छास, लस्सी, फलो का रस की ज्यादा जरुरत होती हैं, जो हमारे शरीर को ठंडा रखने में सहायक होते हैं | इसलिए गर्मियों में खाना कम और तरल पेय ज्यादा पीना चाहिए |

गर्मियों में खासतर चाय, कोफ़ी, चिल्ड कोल्ड्रिंक्स, एलकोहॉल, मांस का सेवन नहीं अथवा कम करना चाहिए जो निर्जलीकरण को बढ़ावा देते हैं |

सुबह का नाश्ता ना करना –

अक्सर हम जल्दबाज़ी में सुबह का नाश्ता किए बिना ही दफ्तर अथवा बाजार निकल जाते हैं, जिसके चलते शरीर को जरूरी ऊर्जा, पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं और दिनभर शरीर कमजोर और टूटा हुआ रहता है। सुबह का नाश्ता शरीर रूपी मशीन के लिये ईंधन की तरह होता है।

इसलिये सुबह को हेल्दी नाश्ता (दूध, दही, छाछ, ज्यूस) करें और सुनिश्चित करें कि ये सभी आवश्यक तत्वों से भरपूर हो। इसके अलावा कई बार हम अपनी डायट में पर्याप्त आयरन नहीं लेते हैं, जोकि दिन भर थकान रहने की वजह बनता है। इसलिये सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त मात्रा में आयरन और बाकी के पोष्टिक तत्व लें रहे हैं ।

fruit-raita-recipe

व्यायाम न करना –

हमारी दैनिक दिनचर्या इस प्रकार हो चुकी हैं की हम व्यायाम के लिए समय नहीं निकल पाते हैं | देर रात तक काम करना और सुबह लेट उठना, रात भर मोबाइल या कंप्यूटर में लगे रहना, और सुबह लेट उठकर दोबारा काम पर चले जाना | इससे शरीर जकड़ा हुआ सा रहता हैं और आलस और नींद आती रहती हैं |

अगर हम जिम न जा पाए तो हम घर पर सिर्फ कुछ आसान सी कसरत करके शरीर को फिट रख सकते हैं | कोशिश करे की 8 बजे के आसपास उठ जाए और कम से कम 10 -12 सूर्य नमस्कार, 10 -12 उठक बैठक और 10 -12 पुश-अप्स करने से शुरुआत करे और धीरे धीरे यह बढ़ाते जाए | आप अपने शरीर में जादुई सुधर पाएंगे और दिनभर चुस्त रहेंगे साथ ही काम में मन लगेगा और तनाव भी दूर होगा |

surya-namaskar

अगर आप इन आसान से दिए टिप्स पर ध्यान देना आज से ही शुरू कर लेंगे तो अपने शरीर में आये बदलाव महसूस करेंगे और दिनभर एक्टिव और ऊर्जावान महसूस करने से खुश भी रहेंगे .

 

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो अपने फ्रेंड्स के साथ जरूर शेयर करे, जो दिनभर सुस्ताता रहता हैं 🙂

Summary
अगर आपको भी दिनभर बहुत आलस और नींद आती हैं तो जाने वजह !
Article Name
अगर आपको भी दिनभर बहुत आलस और नींद आती हैं तो जाने वजह !
Description
चाहे आप एयर कंडीशनर ऑफिस में बैठे हो या या तपती धुप में काम कर रहे हो, गर्मी के समय में आलस आना स्वाभाविक होता हैं| वैसे तो थकान, और दिनभर सुस्ती आने के काफी सारी वजह होती हैं लेकिन गर्मी के समय में ज्यादातर वजह मौसम के अनुकूल हमारे शरीर का नहीं ढल पाना होता हैं| तो आइये जानते हैं ऐसा क्यों होता हैं -
Author
Share this -